पं० राजकुमार शुक्ल” स्मृति में देशज संस्था द्वारा व्याखयान आयोजित

BREAKING NEWS

तैयब हसन ताज की रिपोर्ट
मोतिहारी: ( पूर्वी चम्पारण ) राष्ट्रीय एकता बंदूक से नहीं बल्कि लोगों के स्नेह व सहयोग से कायम रख सकती है राष्ट्रीय एकता के सूत्र वही हो सकते हैं जिसे गांधी ने बतलाया है सत्य अहिंसा सर्वधर्म समभाव सर्वभाषा सम्मान परस्पर प्रेम व भाईचारा इन्हीं चीजों से हमारी राष्ट्रीय एकता मजबूत होगी।

उक्त बातें सुप्रसिद्ध गांधीवादी डॉक्टर एस एन सुब्बाराव ने गांधी संग्रहालय में देश आज द्वारा आयोजित राज कुमार शुक्ला स्मृति व्याख्यान में राष्ट्रीय एकता के सूत्र विषयक सेमिनार को संबोधित करते हुए कही।

             कार्यक्रम का आरंभ डॉक्टर राजीव रंजन गिरि के विषय प्रवर्तन से हुआ। डॉ सुब्बाराव ने कहा कि धर्मों के आपस की लड़ाई की वजह से कितने देश टूटे हैं और भारी रक्त पात हुआ है भाषा को दबाने को लेकर भी संघर्ष हुआ है और देश टूटे हैं इसलिए हमें अपनी विविधता का ख्याल रखना है कि उस पर किसी प्रकार की आंच ना आए हमारी राष्ट्रीय एकता जुड़ी हुई है । डॉक्टर सुब्बाराव ने लोगों का आह्वान भी किया कि वह 24 घंटे में एक घंटा समय देश को एक घंटा समय है देश को जरूर दे दें इससे उनका मतलब व्यक्ति के स्वास्थ्य से था क्योंकि स्वस्थ व्यक्ति ही देश के काम आ सकता है अहिंसा के महत्व को रेखांकित करते हुए उन्होंने कहा कि हिंसक क्रांति को दुनिया जल्दी भूल जाती है उदाहरण के तौर पर उन्होंने रूसी क्रांति को गिनाया जो 1917 में ही हुई थी उन्होंने यह भी बताया कि अहिंसक क्रांति को दुनिया भूलती नहीं है चंपारण सत्याग्रह शताब्दी समारोह इसका ज्वलंत उदाहरण है।

         कार्यक्रम का समापन अधिवक्ता राम जय प्रताप के संबोधन से हुआ कार्यक्रम में संगृहालय के सचिव बृज किशोर सिंह अधिवक्ता रमाकांत पांडे गांधीवादी अभय प्रताप कुणाल प्रताप सिंह अधिवक्ता हरेंद्र सिंह देशराज के सतीश जोशी युवा गांधीवादी विनय कुमार उपाध्याय अधिवक्ता नवल किशोर प्रसाद संजीव कुमार नंद किशोर साह पुरुषोत्तम सुजीत कुमार आदि शामिल थे संजीवनी संस्था द्वारा कार्यक्रम के प्रारंभ में सुब्बाराव द्वारा वृक्षारोपण कराया गया।उक्त कार्यक्रम को सफल बनाने में “टीम सेवा” मोतिहारी के कुमार निखिल विवेक , प्रकाश श्रीवास्तव सहित अन्य युवा साथियों का योगदान रहा।उक्त जानकारी विज्ञाप्ति के माध्यम से विकाश राज ने दी।

Advertisements